How To Increase Eyesight In Hindi | आँखों की रोशनी को कैसे बढ़ाए

अगर आपकी Eyesight कमजोर है या आप भी अपनी Eyesight Increase करना चाहते है तो इस Artical को पूरा अछे से पढे। इसमे आपको आपके Eyesight Increase करने की पूरी प्रक्रिया Step-By-Step दी गयी है।

क्या आप अपनी दृष्टि में गिरावट देख रहे हैं? शायद सड़क संकेतों या Restaurants मेनू को पढ़ना कठिन हो रहा है। हो सकता है कि रात में कम रोशनी में यह और भी सख्त हो जाए। ज्यादातर लोगों के लिए उनकी दृष्टि में धीमी गिरावट उम्र बढ़ने का एक सामान्य संकेत है। सौभाग्य से बहुत सी चीजें हैं जिनसे आप महंगी सर्जरी कराने या चश्मे के बिना अपनी दृष्टि में सुधार ला सकते हैं। । आपको इसका सहारा लेने की आवश्यकता नहीं हो सकती है। इसके बजाय आप स्वाभाविक रूप से और तेजी से अपनी दृष्टि में सुधार ला पाएंगे।


आँखों की रोशनी को कैसे बढ़ाए-

How To Increase Eyesight In Hindi | आँखों की रोशनी को कैसे बढ़ाए


आँखों की रोशनी कम होने के सामान्य लक्षण-

  1. धुंधली द्रष्टी- Blurry Vision
  2. अक्सर सिर दर्द होना- Frequent Headache
  3. आँखों में पानी आना- Watery Eyes
इनमे से किसी भी प्रकार के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत ही आंखों के Doctor के पास जाकर इलाज़ करवाए। कभी कभी यह परेशानिया गंभीर बीमारियो मे भी वदल जाती है।
जैसे-
  1. मोतियाबिंद
  2. आँखों की माशपेशियों का कमजोर व खराब होना
  3. ऑप्टिक न्यूरोपैथी

यहा पर हम आपको आपकी आखो की रोशनी बचने के लिए घरेलू आँखों के व्यायाम दे रहे है इन व्यायाम से आप अपनी सुंदर सी आँखों की रक्षा कर पाएंगे। आपको इन व्यायाम से काफी हद तक आराम भी मिलेगा।

आँख को दायें व बाएँ हिलाये-

अपनी आँखें बंद करें उन्हें बाएं से दाएं चलना शुरू कर दें। यह व्यायाम आंखों में तनाव को शांत करने में मदद करता है जिससे आपको अधिक आराम की अनुभूति होती है। रात में ऐसा करना हमेशा अच्छा होता है क्योंकि इस व्यायाम के बाद एक अच्छी नींद की जरूरत पड़ती है। करीबन 3-4  सप्ताह तक सोने से पहले ऐसा करने से आपकी आंखों की रोशनी में सुधार हो जाएगा।

आँख झपकना-

झपकाने से आंखों के चारों ओर एक फिल्म बनाने में मदद मिलती है जो इसे संक्रमण व धूल से बचाती है। जैसे हम स्वाभाविक रूप से झपकाते हैं यदि हम थोड़ा समय निकालते हैं और इसे केवल 10 मिनट के लिए करने के लिए समर्पित करते हैं तो इसका हमारी आंखों पर बहुत प्रभाव पड़ेगा। न केवल हम उन्हें आराम देंगे बल्कि हम उन्हें किसी भी धूल या पदार्थ से बचाने और ठीक करने में भी मदद करेंगे।

योगा-

योग हमें कई अभ्यास प्रदान करता है जो हमारी दृष्टि में सुधार करने में हमारी सहायता कर सकते हैं। पैमिंग, ब्लिंकिंग, घूर्णी देखने, सामने और बग़ल में देखने, बग़ल में देखने आदि इनमें से कुछ अभ्यास हैं।

पैमिंग-अपने हाथों की हथेलियों को तब तक रगड़ें जब तक कि वे गर्म न हो जाएं और उन्हें अपनी पलकों पर धीरे से दबाएं। महसूस करें कि हथेली की गर्माहट आपकी आँखों और आपकी आँखों की मांसपेशियों को आराम से स्थानांतरित हो रही है। तब तक ऐसे ही करते रहें जब तक आपके हाथों की गर्मी पूरी तरह से आपकी आँखों द्वारा अवशोषित न हो जाए और इसे कम से कम तीन बार दोहराएँ।

जल्दी से लगभग 10-15 बार पलक झपकाएं। अपनी आँखें बंद करें और अपनी सांस पर ध्यान केंद्रित करते हुए कुछ सेकंड के लिए आराम करें। इस अभ्यास को लगभग 5 बार दोहराएं।

Note-अगर आपको इस post मे दी गयी जानकारी पसंद आई हो और यह आपके फायदेमंद रही हो तो इस post को Share करें। अन्य किसी समस्या को Comment करके बताये।

Post a Comment

0 Comments